You are currently viewing अच्छी और गहरी नींद लेने के लिए क्या करें
अच्छी और गहरी नींद लेने के लिए क्या करें

अच्छी और गहरी नींद लेने के लिए क्या करें

अच्छी और गहरी नींद लेने के लिए क्या करें – कई लोगों को देर रात तक नींद नहीं आती है। नींद नहीं आने के कई कारण है- जैसे तनाव, अवसाद, कैफीन, निकोटिन और अल्कोहल, देर तक मोबाइल या टीवी देखना, सोने से कुछ समय पहले ही भोजन करना, सोने का अनियमित समय, अत्यधिक दवाओं का सेवन, शारीरिक दर्द आदि। अच्छे स्वास्थ्य के लिए पूरी नींद का होना काफी जरुरी होता है। दिनभर के थकान और मेंटल प्रेशर को झेलने के बाद नींद लेना जरूरी होता है।

अच्छी और गहरी नींद लेने के लिए क्या करें
अच्छी और गहरी नींद लेने के लिए क्या करें

हेल्थ एक्सपर्ट्स भी रोज 7 से 8 घंटे की नींद लेने की सलाह देते हैं। हमारा दिमाग केवल रात में ही आराम करता है। इसलिए रात में नींद लेने में कई तरह की परेशानियां आ सकती हैं। साथ ही तनाव और चिड़चिड़ापन जैसी समस्या भी हो सकती है। कई लोगों को रात में नींद नहीं आती है। ऐसी स्थिति में वे नींद की गोलियों का सहारा लेते हैं। लेकिन इससे कई साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं। 

एक्सपर्ट्स के अनुसार अगर आपको रात में नींद नहीं आती है तो आप पादाभ्यंग करें। इस आसन को करने के लिए आपको दोनों पैरों में तेल लगाना होगा। इसके बाद थोड़ी देर तक अच्छे से मालिश करनी होगी। करीब एक घंटे के लिए इसे ऐसे ही छोड़ से फिर पैरों को पानी से धो लें। इसे रोजाना करने से इसके पॉजिटिव रिजल्ट देखने को मिलेंगे

हल्दी के साथ गर्म दूध पीएं

अच्छी नींद के लिए आप मेडिकेटेड मिल्क पी सकते हैं। इसमें आपको 1 गिलास दूध में ¼ चम्मच जायफल पाउडर तथा एक चुटकी हल्दी मिलाना होगा। इसके बाद आप दूध को 5 मिनट तक उबालें। रात को सोने से पहले इसका सेवन करें। इससे आपकी नींद न आने की समस्या दूर हो जाएगी।

प्राणायाम करें

अगर आपको रात में नींद नहीं आती है तो ऐसे में प्राणायाम आपके लिए काफी लाभकारी हो सकता है। प्राणायाम नींद की नेचुरल दवा से कम नहीं होता है। एक्सपर्ट्स के अनुसार नींद के लिए अनुलोम-विलोम प्राणायाम करने से बॉडी रिलेक्स होती है। जिससे अच्छी नींद आती है। रोज रात को सोते वक्त 5 मिनट के लिए प्राणायाम करने से आपको भरपूर नींद आएगी।

डाइट में बदलाव करें

हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि अच्छी नींद आने के लिए आपको अपनी डाइट में बदलाव जरूर करना चाहिए। ऐसे लोगों को गर्म खाने का सेवन करना चाहिए साथ ही सूर्यास्त से पहले ही भोजन कर लेना चाहिए। वहीं शाम को चाय या कॉफी पीने से भी परहेज करना चाहिए।

लाइफस्टाइल में बदलाव करें

अगर आपको रात में नींद नहीं आती है तो आपको अपनी लाइफस्टाइल में बदलाव करने की जरूरत है। आपको भोजन करने के बाद करीब 100 कदम चलना चाहिए। साथ ही रात को 10 बजे तक सो जाना चाहिए। सोने के एक घंटे पहले सारे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जैसे फोन, लैपटॉप, टीवी आदि का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

मेडिटेशन भी है असरदार

यदि आपको नींद की समस्या है, तो मेडिटेशन आपकी मदद कर सकता है। मेडिटेशन का अभ्यास आपके दिन भर के स्ट्रेस को कम करता है और आपके मूड को भी बूस्ट करने में मदद करता है।

समय निर्धारित करें – सोने और जागने का एक निर्धारित समय तय करें। हम यह नहीं कह रहे कि हर रोज ठीक घड़ी की सुई देखकर बेड पर जाएं, परंतु निर्धारित समय से ज्यादा देर भी न करें।

डिनर हल्का करें – रात को सोने से तुरंत पहले डिनर न करें। साथ ही हैवी डिनर के तुरंत बाद सोना भी आपको अस्वस्थ कर सकता है।

रोशनी धीमी हो – बेडरूम में सोते वक्त डिम लाइट का इस्तेमाल करें। क्योंकि हाई इंटेंसिटी की लाइट आपकी नींद को प्रभावित करती है।

कैफीन के सेवन से बचें – शाम को कैफीन, निकोटीन और अल्कोहल जैसे पदार्थों के सेवन से बचें।

बिस्तर आरामदायक हो – आरामदायक मैट्ट्रेस, ब्लैंकेट और तकिए का इस्तेमाल करें।
गैजेट्स को दूर रखें – फोन, लैपटॉप, टीवी इत्यादि के स्क्रीन को सोने से कम से कम 1 घंटे पहले बंद कर दें।

Leave a Reply